Saturday, August 27, 2011

महान गायक मुकेश जी की पुण्य तिथि (27 Aug) पर कुछ गीत --



छोटी सी है ज़िंदगानी


चन्दन सा बदन


वो तेरे प्यार का गम


डम डम डिगा डिगा


जिस दिल मे बसा था प्यार तेरा


ओ जाने वाले हो सके तो लौट के आना


चले जाना ज़रा ठहरो


सावन का महीना


कहीं करती होगी वो मेरा इंतज़ार


कभी कभी मेरे दिल मे


कोई जब तुम्हारा


आँसू भरी हैं


मेरा जूता है जापानी


ये मेरा दीवानापन


आ लौट के आजा मेरे मीत


दुनिया बनाने वाले